Politics

बरघाट विधायक के बयान से गड़बड़ा सकते हैं कांग्रेस के समीकरण

डिजिटल डेस्क,सिवनी।

सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर आगे बढ़ रही कांग्रेस की मुश्किलें उसके बरघाट विधायक का हालिया बयान बढ़ा सकता है। विश्व आदिवासी दिवस पर बड़ी संख्या में आदिवासियों के साथ आक्रोश पदयात्रा रैली लेकर जिला मुख्यालय पर पहुंचे विधायक अर्जुन सिंह काकोडिय़ा ने रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि ‘भारत को हिन्दू राष्ट्र नहीं बनने देंगे। आदिवासी इस देश का मूल निवासी है। मूल निवासी ही नहीं आदिवासी ही इस देश का मूल मालिक है। ये हमारा देश है। इसको हिन्दू राष्ट्र नहीं बनने देंगे।’ उनका यह बयान ऐसे समय आया है जबकि कुछ दिन पूर्व ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने अपने गृह निर्वाचन क्षेत्र छिंदवाड़ा में बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की रामकथा का तीन दिनीआयोजन किया था। इस आयोजन के मुख्य यजमान उनके पुत्र नकुलनाथ थे।

भाजपा हुई हमलावर

काकोडिय़ा के इस बयान पर भाजपा हमलावर हुई है। जिलाध्यक्ष आलोक दुबे ने इसे तुष्टिकरण की नीति के तहत किया जा रहा काम बताते हुए कहा कि ये मानसिकता कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व से शुरू होती है। उन्होंने कहा, विश्व आदिवासी दिवस पर कांग्रेस ने उपद्रवियों का स्वागत किया, जिसके बाद शहर में उत्पात मचाया गया। व्यापारियों से अभद्रता की गई, जबरन दुकानें बंद कराई गईं और मारपीट की घटनाओं को अंजाम दिया गया। जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजकुमार खुराना ने पार्टी का आयोजन न होने की बात कहते हुए मामले से पल्ला ही झाड़ लिया।

सिवनी के साथ केवलारी में बढ़ेगा संकट

पार्टी सूत्रों के अनुसार भले ही जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने मामले से पल्ला झाड़ लिया हो लेकिन यह मामला इतनी आसानी से कांग्रेस का पीछा नहीं छोडऩे वाला। कारण यह कि रैली के दौरान सि तरह से शहर में जबरिया बंद कराया गया। डंडे और पत्थर चले, उससे शहर का व्यापारी वर्ग क्या, आम आदमी भी गुस्से में है। विधायक काकोडिय़ा के बयान ने आग में घी का काम किया, क्योंकि सिवनी और केवलारी में यह वर्ग कांग्रेस से चुनाव के समय नाराजगी जता सकता है। क्योंकि जिला भाजपा ने काकोडिय़ा के बयान को एक मुद्दा बनाते हुए इसे न सिर्फ सिवनी और केवलारी बल्कि आरक्षित बरघाट और लखनादौन में भी उठाने की रणनीति बना ली है। बहुत संभव है भाजपा का प्रदेश संगठन भी काकोडिय़ा के बयान को बड़ा मुद्दा बना कर चुनाव में पेश कर दे और कांग्रेस को घेरे।

Created On : &nbsp 12 Aug 2023 8:46 AM GMT

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Uh oh. Looks like you're using an ad blocker.

We charge advertisers instead of our audience. Please whitelist our site to show your support for Nirala Samaj