Rajasthan

बिना गारंटी लोन देने के मामले में दूसरे स्थान पर है डूंगरपुर, अब तक ले चुके हजारों लोग

 जुगल कलाल/ डूंगरपुर. आमतौर पर लोन देने के लिए आपको गारंटी देनी पड़ती है और साथ में ब्याज भी लगता है. लेकिन, सरकार की इन्दिरा गाँधी शहरी क्रेडिट योजना में 50 हज़ार रुपए का लोन बिना गारंटी और बिना ब्याज के दिया जाता है. इसमें खास बात ये है कि डूंगरपुर प्रदेश भर में सबसे ज्यादा लोन देने वालों की संख्या में दूसरे नंबर है. वहीं, जालोर जिले प्रदेश में अव्वल स्थान हासिल किया है. डूंगरपुर में अभी तक 5 हज़ार से ज्यादा लोगों इस योजना के तहत लोन मिल चुका है.

आपके शहर से (डूंगरपुर)

  • Online Game के जरिए धर्मांतरण का खेल, कहीं आपका बच्चा शिकार तो नहीं ? #shorts | Short Video | News

    Online Game के जरिए धर्मांतरण का खेल, कहीं आपका बच्चा शिकार तो नहीं ? #shorts | Short Video | News

  • pilot salary: कितनी तरह के होते हैं पायलट, किसको कितनी मिलती है सैलरी

    pilot salary: कितनी तरह के होते हैं पायलट, किसको कितनी मिलती है सैलरी

  • Maharashtra Kohlapur Violence: किस वजह से Kohlapur में मचा बवाल | Maharashtra Protest |Breaking News

    Maharashtra Kohlapur Violence: किस वजह से Kohlapur में मचा बवाल | Maharashtra Protest |Breaking News

  • Maharashtra में Aurangzeb पर Whatsapp Post को लेकर हिंसक झड़प, Hindu संगठनों पर लाठी चार्ज | Breaking

    Maharashtra में Aurangzeb पर Whatsapp Post को लेकर हिंसक झड़प, Hindu संगठनों पर लाठी चार्ज | Breaking

  • India vs Australia: World Test Championship का सिकंदर कौन ? Cricket Match |Rohit Sharma |Virat Kohli

    India vs Australia: World Test Championship का सिकंदर कौन ? Cricket Match |Rohit Sharma |Virat Kohli

  • PHOTOS: राजस्‍थान के इस शहर में दिन में हो गई रात, घरों के खिड़की-दरवाजे करने पड़े बंद, वाहनों के थम गए पहिए

    PHOTOS: राजस्‍थान के इस शहर में दिन में हो गई रात, घरों के खिड़की-दरवाजे करने पड़े बंद, वाहनों के थम गए पहिए

  • IBPS RRB Salary: आईबीपीएस आरआरबी में चयन होने पर कितनी मिलती है सैलरी, क्या-क्या है सुविधाएं? जानें कैसे बनते हैं जनरल मैनेजर

    IBPS RRB Salary: आईबीपीएस आरआरबी में चयन होने पर कितनी मिलती है सैलरी, क्या-क्या है सुविधाएं? जानें कैसे बनते हैं जनरल मैनेजर

  • Breaking News: Gaming App पर चलाया जा रहा धर्मांतरण का खेल | Ghaziabad | Uttar Pradesh | Top News

    Breaking News: Gaming App पर चलाया जा रहा धर्मांतरण का खेल | Ghaziabad | Uttar Pradesh | Top News

  • चंबल रिवर फ्रंट पर बनाई गई 18वीं सदी की तरह कलात्मक बावड़ी, पर्यटन को बढ़ावा देने की पहल

    चंबल रिवर फ्रंट पर बनाई गई 18वीं सदी की तरह कलात्मक बावड़ी, पर्यटन को बढ़ावा देने की पहल

  • कांच के टुकड़ों से बनी मेवाड़ की अनोखी ठीकरी कला, जिसकी विदेशों में भी बढ़ी डिमांड

    कांच के टुकड़ों से बनी मेवाड़ की अनोखी ठीकरी कला, जिसकी विदेशों में भी बढ़ी डिमांड

  • किसानों के लिए खुशखबरी, तारबंदी योजना के लिए आवेदन शुरू, ऐसे उठाएं लाभ

    किसानों के लिए खुशखबरी, तारबंदी योजना के लिए आवेदन शुरू, ऐसे उठाएं लाभ

पांच हजार से ज्यादा लोगों दिया लोन

पंडित दीन दयाल उपाध्याय शहरी आजिविका मिशन के मैनेजर हर्षवर्धन सिंह ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा इस योजना को वर्ष 2021 में शुरू किया गया था और डूंगरपुर निकाय को 5000 हजार लाभार्थियों को ऋण देने का लक्ष्य प्राप्त हुआ था जिसमे डूंगरपुर निकाय ने 5023 लाभार्थियों को ऋण देकर शत प्रतिशत लक्ष्य हासिल करते हुए प्रदेश में दूसरा स्थान हासिल किया है. उन्होंने बताया कि कोरोना काल के बाद राज्य सरकार ने इस महत्वकांशी योजना को मूर्त रूप दिया था जिसमे ऐसे परिवार जो कोरोना काल के कारण आर्थिक स्तिथि से जूझ रहे हो और अपना नया व्यापार करना चाह रहे हो उनके लिए 50 हजार रूपये तक का ऋण बिना ब्याज के उपलब्ध कराना रखा.

योजना के अंतगर्त शहरी आजीविका मिशन से जुड़े असंगठित क्षेत्र के लोग ,पंजीकृत बेरोजगार युवा और स्ट्रीट वेंडर्स से आवेदन लेकर योग्य लाभार्थी को बेंको के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराया गया. योजना में डूंगरपुर निकाय को 5 हजार लाभार्थियों को ऋण देने का लक्ष्य प्राप्त हुआ था. जिसमे डूंगरपुर निकाय ने लक्ष्य से अधिक लाभार्थियों को ऋण उपलब्ध कराकर राज्य में दूसरा स्थान प्राप्त किया है.

Tags: Dungarpur news, Hindi news, Rajasthan news

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Uh oh. Looks like you're using an ad blocker.

We charge advertisers instead of our audience. Please whitelist our site to show your support for Nirala Samaj